Dare Nabi Par Yeh Umr Beete Naat Lyrics

Dare Nabi Par Yeh Umr Beete Naat Lyrics

Dare Nabi Par Yeh Umr Beete
Ho Hum Pe Lutfe Dawaam Aisa
Madine Waale Kahe Maqaami
Ho Unke Dar Par Qayaam Aisa

Yeh Rifate Zikre Mustafa Hai
Nahi Kisi Ka Maqaam Aisa
Jo Baad Zikre Khuda Hai Afzal
Hai Zikre Khairul Anaam Aisa

Jo Ghamzadon Ko Gale Laga Le
Buron Ko Daaman Me Jo Chupa Le
Hai Doosra Kaun Is Jahaan Me
Siwaae Khairul Anaam Aisa

Bilal Tujh Par Nisaar Jau
Ke Khud Nabi Ne Tujhe Khareeda
Naseeb Ho To Naseeb Aisi
Ghulam Ho To Ghulam Aisa
Dare Nabi Par Yeh Umr Beete
Namaaz Aqsa Me Jab Padhayi
To Ambiya Aur Rusul Yeh Bole
Namaaz Ho To Namaz Aisi
Imaam Ho To Imaam Aisa

Bilal Tujhpr Nisaar Jau Full Naat Lyrics Hindi

दरे नबी पर ये उम्र बीते
हो हम पे लुत्फे दवाम ऐसा
मदीने वाले कहे मकामी
हो उनके दर पे क़याम ऐसा || 

ये रिफ़ते ज़िक्रे मुस्तफ़ा है
नही किसी का मक़ाम ऐसा 
जो बाद जिक्रे खुदा है अफजल
है ज़िक्रे खैरुल अनाम ऐसा

जो ग़मज़दों को गले लगा ले
बुरों को दामन मैं जो छुपा ले
है दूसरा कौन इस जहाँ में,
सिवाए खैरुल अनाम ऐसा || 

बिलाल तुझ पर निसार जाऊं
के खुद नबी न तुझे खरीदा 
नसीब हो तो नसीब ऐसा 
गुलाम हो तो गुलाम ऐसा || 

नमाज़ अक्सा में जब पढ़ाई 
तो अम्बिया और रसूल ये बोले
नमाज हो तो नमाज ऐसी 
इमाम हो तो इमाम ऐसा ||